फोटोगैलरी
भारत के उत्‍त्‍री क्षेत्र की सबसे वृहत कार्यशालाओं में से एक कार्यशाला है, जिसकी स्‍थापना वर्ष 1947 में की गई थी, जिसका मुख्‍य कार्य वृहत भाखड़ा बांध के निर्माण हेतु स्‍टील ढांचे की फैबरिकेटिंग (निर्मित) करना था तथा इस काफी मात्रा में स्‍टील के ढांचों का डिजाइन निर्माण, संविरचन आपूर्ति और टैस्‍ट किया है। इसमें स्‍टील के ढांचों जैसे लौह युक्‍त तथा अलौह कास्टिंग के अतिरिक्‍त द्वारों, पेनस्‍टाकस लाईनर, पारेषण लाईनर टावरां तथा सब स्‍टेशन संरचनाओं का संविरचन किया है। यह एक प्रतिष्ठित कार्यशाला है, जिसकी जल विद्युत परियोजनाओं हेतू स्‍टील ढांचो का निर्माण करने तथा उनकी आपूर्ति करने और राष्‍ट्रीय स्‍तर पर अन्‍य स्‍टील ढांचों के कार्य अपने अधीन लेने की क्षमता है।
फोटोगैलरी पृष्‍ठ